Home Blog Page 2

Gram Pradhan Kaise Bante hai – ग्राम प्रधान कैसे बनते हैं।

आपको पता ही है कि भारत एक विशाल देश है। भारत को विभिन्नताओं का देश भी कहा जाता है। भारत में विश्व के सभी धर्मों को मानने वाले लोग रहते हैं। विभिन्न ऋतुओं का देश है। मतलब कुल मिलाकर कहा जाए कि भारत एक विशाल देश है।

किसी भी देश में सिर्फ एक प्रमुख नेता पूरे देश को नहीं चला सकता है।इसलिए भारत की शासन व्यवस्था कि सही तरीके से चलने के लिए, शासन अपने कामों को सुचरों रूप से चलाने के लिए, अपने काम को विभिन्न नेताओ, मुख्य, और प्रधानों को पदस्थ करता है। ऐसे में इस देश की शासन व्यवस्था भी विभिन्नता लिए हुए हैं।

अपने मन पर नियंत्रण कैसे रखे जानने के लिए यहां क्लिक करें।

घर में ही गोरे होने के 5 उपाय

पूरे देश को चलाने के लिए राष्ट्रपति होता है, जिसके सभी अधिकारों का उपयोग प्रधानमंत्री के हाथों में होता है। राज्य को चलाने के लिए मुख्यमंत्री नियुक्त किया जाता है। जिले को चलाने के लिए जिलाधीश नियुक्त किए जाते हैं। विकास खंड स्तर पर विकाश खंड अधिकारी, और ग्राम पंचायत को चलाने के ग्राम प्रधान या सरपंच, या मुखिया की नियुक्ति होती है।

तो पोस्ट में हम ग्राम पंचायत के प्रमुख, प्रधान या मुख्य व्यक्ति की बात करेंगे जिसे सरपंच भी कहा जाता है। सरपंच कैसे बनते हैं, सरपंच बनने की क्या योग्यता होती है?, सरपंच बनने की न्यूनतम आयु कितनी होती है?, सरपंच के काम क्या क्या होते हैं? सरपंच के कौनसे अधिकार होते हैं?, ग्राम प्रधान की सैलरी कितनी होती है? आदि तो चलिए शुरू करते हैं।

ग्राम प्रधान या सरपंच किसे कहते हैं? (Gram Pradhan Kaise Kahte hain? )

जैसा कि मैंने पहले ही बताया है कि भारत एक विशाल देश है। भारत में लगभग 6,28,221 गांव हैं। भारत की लगभग 70% जनसंख्या गांवो में रहती है। ऐसे प्रत्येक गांव की शासन व्यवस्था को चलाने के लिए प्रत्येक गांव में एक ग्राम प्रधान को चुना जाता है।

कहने का मतलब है कि, प्रत्येक गांव में गांव की शासन व्यवस्था को संभालने के लिए ,तथा गांव के विकास हेतु कार्य करने के लिए, एक प्रमुख व्यक्ति को चुना जाता है। जिसे ग्राम प्रधान सरपंच या फिर गांव का मुखिया कहा जाता है।

सरपंच या ग्राम प्रधान कैसे बनते हैं? (Gram Pradhan Kaise Bane In Hindi )

ग्राम का सरपंच या फिर ग्राम प्रधान बनाने के लिए, प्रत्येक 5 वर्ष के बाद ग्राम पंचायत चुनाव होता है। इस चुनाव में जिस भी प्रत्याशी को सबसे ज्यादा वोट मिले होते हैं, वह ग्राम प्रधान या फिर ग्राम का सर्वोच्च बन जाता है। इस प्रकार से ग्राम प्रधान बना जाता है।

ग्राम प्रधान का चुनाव कैसे होता है?( Gram Pradhan Ka Chunav Kaise Hota Hai )

सरपंच ग्राम प्रधान बनने के लिए प्रत्येक 5 वर्ष में एक बार चुनाव होता है। यह चुनाव राज्य सरकार के आदेश पर जिला निर्वाचन अधिकारी के द्वारा करवाया जाता है।

सरपंच के चुनाव में हिस्सा लेने के लिए, कुछ महीने पहले ही जिला निर्वाचन अधिकारी के पास, लिखित रूप से अपना आवेदन प्रस्तुत करना पड़ता है। आवेदन करने जाते समय अपने साथ 8 से 10 लोगों को साथ में लिया जाता है। ताकि जिला निर्वाचन अधिकारी को संतुष्टि मिल सके की, आप भी ग्राम में सरपंच बनने लायक प्रत्याशी हैं। और लोग आपको भी सपोर्ट कर रहे हैं।

ग्राम प्रधान या सरपंच हेतु चुनाव में प्रत्याशी बनने के लिए, आवेदन जमा करने के बाद जिला निर्वाचन अधिकारी के द्वारा प्रत्येक प्रत्याशी को एक चुनाव चिन्ह दिया जाता है।

इसी चुनाव चिन्ह पर बटन दबाकर मतदाता अपने मनपसंद प्रत्याशी को वोट देते हैं।

अचार संहिता क्या है? और कैसे लागू होता है?

चुनाव चिह्न दिए जाने के पश्चात सभी प्रत्याशी अपना प्रचार करते हैं। ताकि लोग उनको वोट दें। चुनाव के 20 से 25 दिन पहले, निर्वाचन आयोग के द्वारा आचार संहिता लागू कर दिया जाता है। ताकि निर्वाचन आयोग चुनाव स्वतंत्र रूप से निष्पक्ष रूप से करा सकें ।और चुनाव के दौरान कोई झगड़ा का माहौल, या अवैध तथ्य उत्पन्न ना हो।

आचार संहिता लागू करने के पश्चात, कोई भी प्रत्याशी वोट का प्रचार नहीं कर सकता है। आचार संहिता लागू होने के बाद, किसी भी इंसान को समूह में कोई डिस्कशन नहीं करना होता है। और ना ही कोई बात करना होता है, चुनाव के बारे में।

चुनाव के एक दिन पहले ही, चुनाव हेतु सहायता देने के लिए अन्य जगहों से अध्यापक व, उच्च अधिकारी चुनाव स्थल पर आकर चुनाव हेतु सारी तैयारियां करते हैं। चुनाव के दिन चुनाव प्रक्रिया को संपन्न कराने हेतु ,चुनाव स्थल पर पुलिस अधिकारी भी तैनात किए जाते हैं तथा माहौल को शांत रखने के लिए कई अधिकारी भी चुनाव हेतु सहायता देते हैं

चुनाव में ग्राम पंचायत के वे सारे सदस्य भाग ले सकते हैं, जिनकी उम्र 18 वर्ष से अधिक हो। और वह उसी पंचायत के हो और जिनका नाम मतदाता सूची में नाम हो।

चुनाव के लिए एक समय नियत किया जाता है। इसके पश्चात किसी भी मतदाता को मतदान करने नहीं दिया जाता है। मतदान खत्म होने के बाद अधिकारियों द्वारा मतों की गिनती की जाती है। और जीस भी प्रत्याशी को सबसे अधिक मत मिले होते हैं। उसे ग्राम का सरपंच, या ग्राम प्रधान, या फिर ग्राम का मुखिया बना दिया जाता है। इस प्रकार से ग्राम प्रधान का चुनाव समाप्त होता है।

ग्राम प्रधान के चुनाव कब होंगे (Gram Pradhan Ka Chunav Kab Honge )

ग्राम प्रधान के चुनाव प्रत्येक 5 वर्ष के बाद होती है। मान लीजिए अगर 2020 में ग्राम पंचायत के चुनाव हुई है, तब अगला चुनाव 2025 को होगा।

ग्राम प्रधान या सरपंच बनने की योग्यता (Gram Pradhan ya sarpanch banne ke liye yogyata)

ग्राम प्रधान बनने के लिए प्रत्याशी में निम्नलिखित योग्यताएं होनी जरूरी है –

1. ग्राम प्रधान या सरपंच का चुनाव लड़ने के लिए प्रत्याशी को उसी ग्राम पंचायत का होना जरूरी है।

2. ग्राम प्रधान बनने के लिए प्रत्याशी का मतदाता सूची में नाम होना जरूरी है।

3. ग्राम प्रधान बनाने के लिए प्रत्याशी का न्यूनतम आयु 21 वर्ष होना जरूरी है।

4. ग्राम प्रधान बनाने के लिए निर्वाचन अधिकारी के पास अपना आवेदन जमा करते समय, एसटी एससी ओबीसी या फिर General होने का जाति प्रमाण पत्र होना जरूरी है।

5. ग्राम प्रधान और सरपंच बनने के लिए प्रत्याशी को मानसिक रूप से स्वस्थ होना जरूरी है। कहने का मतलब है कि ग्राम प्रधान का प्रत्याशी पागल या दिवालिया ना हो।

6. ग्राम प्रधान बनाने के लिए प्रत्याशी हेतु आवेदन जमा करने से पहले उक्त प्रत्याशी का ग्राम पंचायत में कोई पूर्व बकाया राशि ना हो।

अगर आप ही ने सारी शर्तों को मानते हैं, और इनका पालन करते हैं, तब आप सरपंच बनने के योग्य बन जाते हैं।

ग्राम प्रधान बनाने के लिए न्यूनतम आयु कितनी होनी चाहिए (Gram Pradhan Nyuntam Aayu Kitni Honi Chahiye ?)

वैसे तो ग्राम प्रधान बनाने के लिए न्यूनतम आयु 21 वर्ष तय की गई है। लेकिन कुछ नेता तथा कानून के ज्ञाता इस बात से संतुष्ट नहीं है। कई बार इसके विरोध में आवाज उठाया गया है, कि ग्राम प्रधान बनने के लिए न्यूनतम आयु को बढ़ाया जाना चाहिए।

क्योंकि उन्हें लगता है कि ग्राम प्रधान बनने के लिए 21 वर्ष की आयु ठीक नहीं है। क्योंकि 21 वर्ष की आयु में किसी भी युवा को राजनीति का अच्छा ज्ञान नहीं होता है। और मैं भी काफी हद तक इस बात से संतुष्ट हूं। कोई भी चुनाव लड़ने के लिए 21 वर्ष की न्यूनतम आयु सही नहीं है।

ग्राम प्रधान की सैलरी कितनी होती है 2020 (Gram Pradhan Ki Salery Kitni Hoti Hai 2020 )

ग्राम प्रधान की सैलरी प्रत्येक राज्य में अलग अलग हो सकता है। अगर हम उत्तर प्रदेश के बात करें तो उत्तरप्रदेश में ग्राम प्रधान का सैलरी ₹35,00 है और यात्रा भत्ता के लिए अलग से 15,000 दिया जाता है। इस प्रकार ग्राम प्रधान की तनख्वाह ₹18500 होती है।

जैसे कि मैंने ऊपर में बताया है, कि ग्राम प्रधान की सैलरी प्रत्येक राज्य में अलग-अलग हो सकती है। अगर हम छत्तीसगढ़ की बात करें तो छत्तीसगढ़ में ग्राम प्रधान की सैलरी पहले ₹2000 थी। अब उसे बढ़ाकर ₹3500 कर दिया गया है।

ग्राम प्रधान का कार्यकाल कितना होता है (Gram Pradhan Ka Karyakal)

ग्राम प्रधान का कार्यकाल 5 वर्ष का होता है। प्रत्येक 5 वर्ष के बाद पूरा हो ग्राम प्रधान सरपंच या ग्राम पंचायत का चुनाव होता है। जिसमें फिर से वही प्रत्याशी भी भाग ले सकता है। अन्यथा संबंधित पंचायत का कोई भी मतदाता प्रत्याशी हेतु आवेदन कर सकता है।

ग्राम प्रधान का चुनाव कैसे जीते ? (Gram Pradhan Ka Chunav Kaise Jite )

ग्राम प्रधान का चुनाव जीतने के लिए आपको अपने ग्राम पंचायत में और विख्यात होना चाहिए। ग्राम प्रधान का चुनाव जीतने के लिए आपमें स्नेही, साहसी, विख्यात, और कर्तव्यनिष्ठ, नेतृत्व क्षमता वाला होना जरूरी है। तभी आप ग्राम प्रधान का चुनाव जीत सकते हैं।

इसके अलावा आजकल अगर आपमें यह सारे  गुण नहीं भी हैं, फिर भी आप पैसों के दम पर ग्राम प्रधान का चुनाव जीत सकते हैं। जो की पूरी तरह से एक अवैध तरीका है। और कभी भी पैसे लेकर या पैसे देकर, ना तो चुनाव जीतना चाहिए और ना ही जिताना चाहिए।

इसके बाद भी इस बात को नहीं नकारा जा सकता कि पंचायत का चुनाव शराबियों के लिए त्यौहार के जैसा है।

ग्राम प्रधान के कार्य या ग्राम प्रधान के कर्तव्य ग्राम प्रधान का कार्य (Gram Pradhan Ke Karya )

1. यदि गांव में कोई ऐसा मोहल्ला है या फिर कोई ऐसी सड़क है, जो कि कच्ची हो या फिर टूटा फूटा हो। तो ऐसी स्थिति में ग्राम प्रधान का कर्तव्य है, कि वह उस सड़क को बनाने के लिए सरकार से राशि प्राप्त करने हेतु आवेदन करें और वह सड़क का निर्माण करें तथा जहां कहीं जरूरत हो तो पुरानी सड़कों का मरम्मत भी करवाएं।

2. छत्तीसगढ़ सरकार ने प्रत्येक ग्राम पंचायत में ग्रामीणों को मनरेगा योजना के तहत 100 दिन का रोजगार देने का वादा किया है। और यह काम ग्राम प्रधान के द्वारा कराया जाता है।

3. ग्रामीण क्षेत्रों में तालाब गहरीकरण के लिए बहुत बड़ी मात्रा में पैसा आता है। और यह काम ग्राम प्रधान के द्वारा ही किया जाता है

5 हजार के अंदर में बेस्ट 4g मोबाइल Phone

4. ग्राम पंचायतों में नया बजरी बनाने हेतु प्रत्येक वर्ष शासन से पैसा आता है। और यह ग्राम ग्राम प्रधान को ही करना पड़ता है।

5. ग्राम प्रधान का कार्य होता है, कि वह प्राथमिक शिक्षा पर ध्यान दें। तथा 6 से 14 वर्ष के सभी बालकों को मुफ्त शिक्षा प्राप्त करने हेतु सहायता करें।

6. प्रत्येक ग्राम प्रधान के 5 वर्ष के कार्यकाल में पौधारोपण करने हेतु 5 से ₹10 लाख आते हैं। अतः ग्राम पंचायत में पौधारोपण करने का कार्य भी ग्राम पर सरपंच के अंदर में आता है।

ग्राम प्रधान को कौनसे कार्य करने होते हैं?

7. ग्राम प्रधान या सरपंच का मुख्य कार्य है कि वह ग्राम पंचायत की स्वच्छता पर ध्यान दें। तथा समय-समय पर साफ-सफाई करवाते रहें।

8. बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान के तहत ग्राम प्रधान का कर्तव्य है कि, वह बालिका शिक्षा के ऊपर विशेष ध्यान दें और बालिकाओं को शिक्षित करने का प्रयास करें।

9. ग्राम प्रधान अपने पंचायत में समय-समय पर तरह-तरह के जागरूकता अभियान चलाते रहे। जिससे ग्राम पंचायत के लोग स्वच्छता के प्रति जागरूक हो, शिक्षा के प्रति जागरूक हो, स्वास्थ्य के प्रति जागरूक हो, तथा अन्य जागरूकता मिशन पर कार्य किया जा सकता है।

10. ग्राम प्रधान अपने पंचायत के आंगनबाड़ी का भी विकास करने में उत्तर दायित्व होता है।

11. ग्राम प्रधान तथा समिति का यह कर्तव्य है कि अपने ग्राम पंचायत में जन्म मृत्यु तथा विवाह की जानकारी/डाटा अपने पास रखें ।

12. ग्राम प्रधान का यह कार्य है कि वह अपनी ग्राम पंचायत में पशुपालन हेतु कार्य करें। पशुपालन के विकास के लिए सरकार द्वारा बनाई गई योजना का लाभ दिया जा सकता है।

13. ग्राम प्रधान चाहे तो मछली पालन भी करवा सकता है। इससे ग्रामीणों को रोजगार में प्राप्त हो जाएगा।

ग्राम प्रधान या सरपंच कैसे बने । कार्य , योग्यता, सैलरी । Gram Pradhan Kaise Banate hain In Hindi

14. ग्राम प्रधान का कार्य है, कि वह ग्राम पंचायत में खेल के मैदान का निर्माण करें। तथा खेल को प्रोत्साहन प्रदान करें।

15. ग्राम प्रधान का कार्य है, कि वह अपने पंचायत में कृषि कार्य को बढ़ावा दे। तथा कृषि कार्यों के विकास हेतु विभिन्न सभाओं का आयोजन करें। और वहां कृषि कार्य को बढ़ावा देने हेतु चर्चा करें।

मन को नियंत्रित करने का उपाय बताइए – How To Control Your Mind In Hindi

मनुष्य के इंद्रीय अर्थात आंख कान मुंह त्वचा और जीभ होते हैं। इन्हें के गलत स्वभाव के कारण, मनुष्य पाप करने के लिए जिम्मेदार होता है। हमारे मन को कंट्रोल करने के लिए हमारी इंद्रियों को कंट्रोल में रखना बहुत ज्यादा जरूरी है। जब तक हम अपनी इंद्रियों को अपने नियंत्रण में नहीं रखेंगे तब तक हम अपने मन को नियंत्रण में नहीं रख सकते। तब तक हम अपने मन पर विजय प्राप्त नहीं कर सकते हैं।

How To Control Your Mind In Hindi
मन को नियंत्रित कैसे करें How To Control Your Mind In Hindi

मनुष्य को एक दिन में 60000 विचार आते हैं। इसलिए में को शांत करना जरूरी है।

मनोवैज्ञानिकों के अनुसार एक स्वास्थ्य मनुष्य को प्रत्येक दिन 60000 विचार आते हैं। अर्थात 86400 सेकंड मैं 60000 विचार आते हैं। अर्थात 2 सेकेंड से भी कम समय में एक विचार आता है। इस आंकड़े से अब पता लगा सकते हैं कि मन कितना ज्यादा चंचल है। मन को इस गति को भागने से रोकना लगभग नामुमकिन है,  लेकिन यहां कुछ ऐसे तरीकों का को बताएंगे कि, आप मन को अपने नियंत्रण में रख सकते हैं।

क्या हम अपने मन को सोचने से रोक सकते हैं?

इंसान अपने मन को सोचने से नहीं रोक सकते हैं। जब इंसान शांत बैठा रहता है और किसी एक काम को कर रहा होता है, तब भी वह कुछ ना कुछ सोच रहा होता है। मन को नियंत्रण में रखने का मतलब यह नहीं है कि कुछ ना सोचा जाए बल्की मन को नियंत्रण में रखने का मतलब है, कि किसी एक काम पर फोकस किया जाए और उस काम को करने के लिए अपना 100 परसेंट दिया जाए। किसी प्रकार से मन को संतुलित किया जाए, जिससे मन मनुष्य के नियंत्रण में रहे ना कि मनुष्य को नियंत्रण में रखें।

मन को नियंत्रित कैसे करें How To Control Your Mind In Hindi
मन को नियंत्रित कैसे करें How To Control Your Mind In Hindi

मनुष्य का मन हर पल किसी न किसी बात को सोचता ही रहता है। चाहे वह भूतकाल में घटित कोई बुरी घटना हो या फिर अपने वर्तमान समय में चल रहे किसी घटना के बारे में, या फिर फ्यूचर के बारे में सोचता ही रहता है। किस प्रकार वह अपने मन को नियंत्रण में नहीं रह पाता है जिसकी वजह से वह अस्थिर रहता है।

मन किसी प्रकार का मोबाइल डिवाइस नहीं है, कि परेशान करने पर हम उसे बंद कर सकें। जब तक मनुष्य जीवित रहता है तब तक मन कुछ न कुछ सोचता ही रहता है। सोते समय भी वह स्वप्न के रूप में कुछ न कुछ विचार करते रहता है। मतलब कुल मिलाकर देखा जाए तो मन कभी शांत होता ही नहीं है। और मन को शांत भी नहीं किया जा सकता है। मन को केवल नियंत्रण किया जा सकता है तो चलिए इस पोस्ट में हम को बताएंगे कि मन को कैसे नियंत्रण में रखा जाए।

मन को नियंत्रण में रखने के फायदे। मन को कैसे काबू में रखें। (How To Control Your Mind From Unwanted Thoughts)

लक्ष्य पर Focus बना रहता है

जब तक आप अपने मन को नियंत्रण में नहीं कर लेते तब तक आप अपने लक्ष्य से भटकते ही रहेंगे, जब तक आपका मन आपके नियंत्रण नहीं रहेगा, तब तक आप अपने लक्ष्य को प्राप्त नहीं कर सकते।

लक्ष्य पर ध्यान केंद्रित करने के बारे में महाभारत में भी एक प्रसिद्ध वाकिया है। धनुर्विद्या सिखाते समय द्रोणाचार्य ने जब भीम, युधिष्ठिर, नकुल, सहदेव, तथा बाकी कौरवों को भी जब यही सवाल पूछा गया कि तम्हे क्या दिख रहा है? तब किसी ने कहा कि मुझे पक्षी दिख रहा है, किसी ने कहा पेड़ दिख रहा है, किसी ने कहा पत्ते दिख रही है, किसी ने इधर तो किसी ने उधर बताया ।

लेकिन जब द्रोणाचार्य ने यही सवाल अर्जुन से पूछा तब अर्जुन ने कहा कि हे गुरु मुझे सिर्फ और सिर्फ पक्षी की आंख ही दिख रही है और कुछ नहीं । इसी तरह से हम सभी को अपने लक्ष्य पर ही ध्यान केंद्रित करना चाहिए, और ऐसा तभी हो सकता है जब हम अपने मन को नियंत्रण में रखें। जब हम अपने मन को नियंत्रण में रखते हैं तब हम अपने ध्यान को अपने लक्ष्य पर केंद्रित कर पाते हैं। और हम विजय प्राप्त करते हैं।

जब तक बीज हवा में इधर-उधर उड़ता रहता है, अर्थात अस्थिर रहता है। तब तक वह पेड़ का रूप धारण नहीं कर सकती। लेकिन जब वह मिट्टी में गड़ कर पेड़ का रूप धारण कर लेती है, तो वह हर एक विशाल बरगद का रूप ले लेती है। अर्थात हमें इधर उधर ध्यान नहीं देना चाहिए। अपने लक्ष्य पर ही केंद्रित रहना चाहिए।

हमारा मन नियंत्रण में रहने से हम सकारात्मक महसूस करते हैं

जब हमारा मन हमारे नियंत्रण में रहते हैं तब तक हम अपने लक्ष्यों को अच्छी तरीके से पूर्ण कर पाते हैं जिसकी वजह से हम सभी कार्यों को जल्दी-जल्दी कर पाते हैं और सारे कार्य को पूर्ण कर लेते हैं जिससे हम सफलता को भी बहुत जल्दी पा लेते हैं और इसी वजह से हम सकारात्मक महसूस करते हैं।

हमारे मन पर नियंत्रण ना होने की वजह से हमें नकारात्मक विचार आते हैं।

इस बारे में हमने पहले भी बात किया है कि जब हमारे मन पर हमारा नियंत्रण नहीं रहता है। तब वह इधर-उधर की बातें सोचने लगती है, कभी सेक्स की बातें सोचती है, तो कभी अपने जीवन के बुरे अनुभव के बारे में सोचती है, अपने बुरे घटनाओं के बारे में सोचती हैं, और ना जाने कितनी सारी नकारात्मक चीजों को सोचती रहती है। और जब हम अपने मन को नियंत्रण कर लेते हैं तब ऐसी नकारात्मक विचार हमें प्रभावित नहीं कर सकती। इसीलिए अपने मन पर नियंत्रण करना बहुत ज्यादा जरूरी है।

मन को नियंत्रित करने का उपाय बताइए – How To Control Your Mind In Hindi
मन को नियंत्रित करने का उपाय बताइए – How To Control Your Mind In Hindi

मन को नियंत्रण करने से बुरी आदतों से छुटकारा मिलता है।

जब हम अपने मन को कंट्रोल कर लेते हैं, तब हमें बुरी आदतों से छुटकारा मिलने लगता है। हम अपनी बुरी आदतों को त्यागने लगते हैं। आप स्वयं ही विचार कीजिए क्या यह सत्य नहीं है कि? जब तक आप बुरी चीजों को नहीं सोचेंगे तब तक आप बुरी चीजों को नहीं करेंगे।

लेकिन इसके उलट में जब तक आप बुरी चीजों को सोचते रहेंगे तब तक आप बुरी आदतों को नहीं छोड़ सकते हैं। वह आपका पीछा करते ही रहेंगे। किसी महान व्यक्ति ने कहा है कि “आप जैसे सोचते हैं वैसे बन जाते हैं”। और जब हम अपने मन को नियंत्रण में कर लेते हैं, तब हम अच्छी चीजों को सोचते हैं और अच्छे बनने लगते हैं।

गोरे होने के 5 घरेलू उपाय हिंदी में

गोरे होने के 5 घरेलू नुस्खे

अपने मन को नियंत्रण में रखने के लिए क्या करें (How To Control Your Mind In Hindi)

1) अपने मन को नियंत्रण में रखने के लिए Meditation कीजिए।

श्रीमद भागवत गीता मन को नियंत्रित करने का उपाय बताइए – How To Control Your Mind In Hindi
मन को नियंत्रित करने का उपाय बताइए – How To Control Your Mind In Hindi

अपने मन को नियंत्रण में करने के लिए मेडिटेशन करना सबसे आसान और सस्ता उपाय है। मेडिटेशन करने से हमारा एक भी रुपया खर्च नहीं होता और हमारा मन नियंत्रण में भी रहता है। मेडिटेशन कोई आजकल का उपाय नहीं है बल्कि हमारे ऋषि-मुनियों द्वारा हमेशा से ही मैडिटेशन किया जाता रहा है। मैं पर्सनली आप को यह सलाह देना चाहूंगा कि मेडिटेशन कीजिए। मेडिटेशन करने से आप हर लक्ष्य को प्राप्त कर सकते हैं। मेडिटेशन करने से शरीर और मन दोनों ही स्वस्थ रहते हैं। मन को नियंत्रित करने का यह आसन उपाय है।

मेडिटेशन करना बहुत ही आसान है मेडिटेशन करने के लिए आप सुबह या फिर शाम का समय ले सकते हैं। मेडिटेशन करने के लिए आप किसी ऐसे जगह को चुनिए जहां पर चारों तरफ से हवा और ऑक्सीजन पर्याप्त मात्रा में मिल रही हो। मेडिटेशन करने के लिए आपको साधारण पद्मासन, या फिर पालथी मारकर बैठ जाना चाहिए। और अपने मन को भगवान की तरफ केंद्रित करना चाहिए। या फिर किसी एक ही  जगह केंद्रित करना चाहिए, ध्यान रहे वह चीज या वस्तु सांसारिक नहीं होना चाहिए अर्थात अपने इष्ट देव  के बारे में आप सो सकते हैं।

मेडिटेशन के दौरान आप ओंकार शब्द का भी जाप कर सकते हैं। या फिर कपालभाति, या अनुलोम विलोम के दौरान भी आप इस प्रक्रिया को कर सकते हैं।

2)अपने मन को नियंत्रण में रखने के लिए किताबें पढ़िए। (Control Your Mind By Reading Books)

अगर हम किसी भी महान व्यक्ति के बारे में बात करते हैं, चाहे वह स्वामी विवेकानंद, हो या फिर बिल गेट्स, या वारेन बुफेट, या फिर अन्य कोई महान व्यक्ति। इन सभी में एक साधारण सी बात यह थी कि वह सभी बुक पढ़ने में रुचि दिखाते थे।

वह दुनिया के लोगों के संपर्क में कम रहते थे, और पुस्तकों के संपर्क में अधिक रहते थे। अगर हम बात करें इलोन मस्क की तो, बचपन में ही उनके कोई दोस्त नहीं थे। वह अपना अधिकतर समय लाइब्रेरी में गुजारते थे। एलॉन मस्क की मां को जब मस्क घर पर नहीं मिलते थे, तब उनकी मां सीधा लाइब्रेरी में पहुंच जाती थी और लाइब्रेरी में निश्चित रूप से एलोन मस्क मिल जाते थे। परिणाम यह हुआ कि उन्होंने SpaceX  जैसी ग्रेट कंपनियों की स्थापना की। और लोगों को चांद में भेजेंगे तैयारी भी की।

जब कहीं बुद्धिमत्ता और ज्ञान की बातें हो रही हो, तब ऐसे में हम स्वामी विवेकानंद को कैसे भूल सकते हैं? स्वामी विवेकानंद की स्मृति शक्ति बहुत ही तेज थी। स्वामी विवेकानंद पुस्तक पढ़ने इतने आदी थे, कि वे एक ही दिन में 700 पेज की किताब को पढ़ लेते थे।

स्वामी विवेकानंद एक ही दिन में 700 पेज की किताब इसीलिए पढ़ पाते थे, क्योंकि उनका मन एक एकाग्र रहता था, इधर उधर नहीं भटकता था। स्वामी विवेकानंद का मन उनके नियंत्रण में था इसलिए वह ऐसा कर पाते थे।

3)अपने मन को नियंत्रण करने के लिए स्वयं के साथ वक्त गुजारिए। (Control Your Mind By Spend Time With Yourself)

दिन भर में कम से कम 20 मिनट स्वयं के साथ वक्त गुजारना चाहिए। उन 20 मिनट में आप अपने फ्यूचर के बारे में विचार कर सकते हैं, या फिर आप उन सवालों के उत्तर खोज सकते हैं जो आपको परेशान कर रही है। कई सारे ऐसे परेशानियों से हम जूझते रहते हैं जिनका उत्तर हमारे पास ही होता है और हम उनको नहीं तराश पाते हैं। इसीलिए दिन भर में कम से कम 20 मिनट स्वयं को समय देना चाहिए। और उन 20 मिनटों में स्वयं के बारे में सोचना चाहिए। अपने लक्ष्य के बारे में सोचना चाहिए। इस तरह से हम अपने मन को नियंत्रण में कर सकते हैं।

यदि आप अपने लिए और अधिक समय निकाल सकते हैं तो नई चीजों को सीखना शुरू कर दीजिए अपनी क्रिएटिविटी को बढ़ाईए।

4)अपने मन को एक ग्राहक एकाग्र करने के लिए पॉजिटिव एटीट्यूड रखीए।(Positive Attitude Can Make Your Mind In your Control)

Positive Thoughts मन को नियंत्रित करने का उपाय बताइए – How To Control Your Mind In Hindi
मन को नियंत्रित करने का उपाय बताइए – How To Control Your Mind In Hindi Positive Attitude

अपने मन को नियंत्रित करने के लिए पॉजिटिव  एटिट्यूड रखीए। सकारात्मक सोचिए और सकारात्मक लोगों के साथ रहिए।

प्रतीक चीज को 2 तरह से समझा जा सकता है। पॉजिटिव और नेगेटिव पॉजिटिव लोग अपने साथ होने वाले बुरी घटना को भी पॉजिटिव तरीके से देखते हैं। जबकि नेगेटिव लोग का अपने साथ हो रही किसी भी अच्छी चीज को भी नेगेटिव तरीके से देखते हैं। सबके देखने का नजरिया अलग अलग होता है। इसीलिए पॉजिटिव बनीए और पॉजिटिव लोगों के साथ ही रहिए।

पॉजिटिव लोग जब सड़क पर चलते हैं तो इधर-उधर ध्यान नहीं देते हैं। बस अपने काम से काम रखते हैं और अपने साथ घट रही है अच्छी और बुरी घटना को सकारात्मक ढंग से सोचते हैं।

5) मन को शांत रखने के लिए अपनी लक्ष्य पर ध्यान लगाइए(Control Your Mind From Unwanted Thoughts And Focus Your Mind On Your Target

मन को नियंत्रण में रखने का मतलब यह नहीं है, कि मन को कुछ सोचने हीं ना दिया जाए। मन को नियंत्रण में रखने का मतलब है कि, आप जिस चीज को करना चाहते हैं, आपका ध्यान बस उसी चीज पर केंद्रित रहे। इधर उधर ना भटके। इसीलिए अगर आप अपने मन को एकाग्र रखना चाहते हैं, और नियंत्रित में रखना चाहते हैं, तो एक लक्ष्य चुन लीजिए, और उसी लक्ष्य के पीछे भागे।

आपने अपनी गली मोहल्ले में रस्सी पर चलने वाला सर्कस तो जरूर देखा होगा । रस्सी पर चलने वाला पूरा खेल एकाग्रता पर निर्भर करता है। यदि रस्सी पर चलने वाले का मन इधर-उधर डगमगाता है। तो उस व्यक्ति का रस्सी पर से गिरना पक्का है।
इसीलिए रस्सी पर चलने वाला आदमी केवल अपने लक्ष्य को ही देखता है।

परिणाम (Conclusion)

तो दोस्तों इस पोस्ट में हमने आपको बताया कि अपने मन को कैसे नियंत्रित करें यह पोस्ट आपको कैसा लगा कमेंट के जरिए जरूर बताइएगा। और अपने मन को काबू के लिए आपने इस पोस्ट में बताए गए कितने नियमों का पालन किया है यह जरूर बताइएगा धन्यवाद।

गोरे होने के 5 घरेलू उपाय हिंदी में । Gore Hone Ke Liye 5 Gharelu Upay

दोस्तों आपको पता ही है कि आजकल गोरे और Handsome लोगों को कितना महत्व दिया जाता है?, तो इस Post में हम गोरे होने के कुछ शानदार घरेलू उपाय बताएंगे जिसकी सहायता से आप गोरे हो जाएंगे। यह बताए गए तरीकों से आपको ज्यादा पैसे खर्च भी नहीं करने पढ़ेंगे।

Gore Hone Ka Gharelu Nushka In Hindi, गोरे होने के तरीके, गोरे होने का उपाय, गोरे होने की दवा, गोरे होने की दवा, गोरा होने का पेस्ट, गोरे होने की क्रीम, गोरे गोरे गाल ।
Gore Hone ka Gharelu Tarika In Hindi

जीवन में आपको ये अनुभव हुए ही होगा कि एक गोरा इंसान कहीं भी जाता है, तो सबकी आंखे उसपर गड़ी रहती है। गोरे लोगों के साथ अन्य लोग बात करने को तरसते हैं उनसे बात करना चाहते हैं, उनके करीब रहना चाहते हैं, आज का दौर ऐसा है कि हर कोई गोरा और खूबसूरत होना चाहता है चाहे वह लड़का हो या लड़की।

लड़कों के लिए तो एक पल को गोरा होना इतना ज्यादा महत्व नहीं रखता, लेकिन अगर लड़कियों की बात करें तो उनको बहुत ज्यादा फर्क पड़ता है, क्योंकि हमारा समाज ही ऐसा है कि, लोग गोरे लोगों को अधिक पसंद करता है।

देखिए गोरा होना अच्छी बात है, लेकिन अगर आप काले या सांवले भी है तो आपकी अच्छी personality हो सकते हैं, आप लोगो के चहेते बन सकते हैं। काला या सांवले होना कोई अभिशाप नहीं है। बस समाज को जरूरत है तो अपने नजरिए बदलने की।

गोरे और खूबसूरत होने के फायदे (Benefits Of Being Blonde and beautiful )

लोगों का Attraction – आज कल लोग गोरे लोगों को अधिक पसंद करते है,वे लोग हमेशा नज़रों के सामने रहते हैं। जो कोई भी गोरे और सुंदर लड़कों या लड़कियों को देखते हैं, तो वे लोग गोरे लड़कों/ लड़कियों के उपर फिदा हो जाते हैं।

Confident बढ़ता है – अगर आप एक गोरे व्यक्ति हैं आप अंदर से एक कॉन्फिडेंट लगते हैं। और लोगों के सामने आप एक कॉन्फिडेंट बंदा लगते हैं। और आपको भी पता होगा कि सभी लोग कॉन्फिडेंट लोगो को पसंद करते हैं।

शादी के समय कोई परेशानी नहीं होती है – शादी के लिए लोग आजकल गोरे और खूबसूरत लोगो की तलाश में रहते हैं। सभी लोग ऐसे इंसान से शादी करना चाहते हैं जो कि गोरा ता खूबसूरत है।

अगर आप एक लड़का हैं तो फिर तो आपके लिए लिए चलने वाली बात है, लेकिन अगर आप एक लड़की हैं, तो फिर गोरा होना आपके लिए जैसे की जरूरी हो जाता है। जो कि एक अच्छी बात नहीं है। लोगो को इंसान की सकल के साथ उसके मन और दिल को भी देखना चाहिए।

लेकिन कुछ भी हो लोग तो सुंदर लड़की या लड़के ही पसंद करते हैं।

आपकी Girlfriend or Boyfriend बन सकती है – अगर आप एक खूबसूरत लड़के या फिर लड़की है कि, लोग आपसे ज्यादा इंप्रेस हो जाएंगे और लोग आपको ज्यादा पसंद करने लगेंगे। लोग आपको girlfriend and boyfriend बनाने के बारे में सोचेंगे। इसलिए हम आपको गोरे होने के घरेलू नुस्खे से परिचय कराना चाहते हैं।

Actor बनने के चांस बढ़ जाते हैं – अगर आपकी स्किन गोरी है खूबसूरत है तो फिर आप एक्टर बन सकते हैं। क्योंकि टीवी सीरियल एक्टिंग में अक्सर वहीं लोगों को लिया जाता है, जो कि एक खूबसूरत और हैंडसम हो। इसलिए गोरा होना या खूबसूरत होना जरूरी हो जाता है।

Best 3GB Ram Mobile Phone Under 10000 In india

गोरे होने के घरेलू नुस्खे/ उपाय ( Gore Hone Ke Upay In Hindi)

गोरे और सुंदर होने के लिए मुल्तानी मिट्टी का उपयोग करें (Use multani mitti to be fair and beautiful) –

गोरे होने के लिए बहुत से लोग मुल्तानी मिट्टी का उपयोग करते हैं, और उनको फायदा भी भी होता है। गोरा होने और अपने स्किन को स्मूथ बनाने के लिए मैंने भी मुल्तानी मिट्टी का उपयोग किया था। और मुझे परिणाम भी मिला था।

मुल्तानी मिट्टी आपको बाजार में मिल जाएगा या फिर ऐसे दुकान पर जहां पूजा का सामना मिलता है। वह आपको मुल्तानी मिट्टी मिल जाएगा। मुल्तानी मिट्टी पैकेट में मिलता है। एक पैकेट मुल्तानी मिट्टी कि कीमत 30-40 रुपए हो सकते हैं। और इतने पैसे आपके बजट में भी होंगे।

विधि – एक छोटे से कटोरे में थोड़ा सा गुलाब जल ले लेना है। और अगर आपके पास गुलाब जल नहीं हो तो पानी भी के सकते हैं। इस पानी में मुल्तानी मिट्टी को इतना डालना है कि वह ज्यादा पतला ना हो और ना ही ज्यादा गाढ़ा हो। आपको अपने हिसाब से एक पेस्ट बना लेना है।

फिर अपने चेहरे को साफ पानी से धो लेना और इस मुल्तानी मिट्टी के पेस्ट को अपने चेहरे पर लगाना है। और 1 से डेढ़ घंटा सूखने के लिए छोड़ देना चाहिए फिर इसको धो देना चाहिए।

लाभ – गोरा और सुंदर दिखने के लिए बहुत से लोग मुल्तानी मिट्टी का उपयोग करते हैं और उनको फायदा भी होता है। मुल्तानी मिट्टी के उपयोग से आपकी स्किन गोरी और त्वचा मुलायम लगती है, स्मूथ लगती है। आपके त्वचा के अंदर जो भी धूप मिट्टी जमीन होती है उसे मुल्तानी मिट्टी निकाल देता है। और आपको गोरा बना देता है।

सावधानियां – मुल्तानी मिट्टी का पेस्ट बनाते समय आपको ध्यान रखना चाहिए कि गुलाब जल या पानी की मात्रा ज्यादा न डालें अन्यथा पेस्ट ज्यादा पतला हो जाता है।

मुल्तानी मिट्टी का उपयोग हफ्ता में एक बार ही करें। मुल्तानी मिट्टी का उपयोग बार बार करें तो  आपका चेहरा लाल हो सकता है।

टमाटर और नींबू के रस के फेसपैक से कैसे गोरे हों (How to get whites with a tomato and lemon facepack?) –

टमाटर और नींबू में विटामिन सी होता है। जो कि इम्यून पॉवर को भी बूस्ट करता है। और आपको स्वस्थ रखता है। जब भी सब्जी बनाने के लिए टमाटर को काटते हैं, तो उसमे से जो रस्सा निकलता है उसे छोटे कटोरी में इकट्ठा कर लें और इसमें नींबू के रस को मिला लें। और रूई कि सहायता है इसको अपने face पर लगाए।

सावधानियां – इसे लगाने से पहले चेक करलें की कहीं आपके चेहरे पर को कटने या जलने का तो घाव नहीं है, अन्यथा यह पेस्ट जलन पैदा कर सकती हैं ।

इस पेस्ट को लगाते समय ध्यान रखें कि यह पेस्ट आपके आंख में ना चला जाए, अन्यथा आपको रोना पड़ सकता है। क्योंकि यह बहुत ज्यादा जलने लगेगा।

चावल के पाउडर और दूध का मिक्स आपको गोरा कर सकती है (A mixture of rice powder and milk can make you blond) –

विधि – चावल का पाउडर और दूध का पेस्ट आपको गोरा बना सकती है। इस पेस्ट को बनाने के लिए आप चावल को एकदम बारीक पीस लें। और इसमें जरूरत के अनुसार कच्चा दूध को मिला लें। और इसे अपने चेहरे में लगभग 1 घंटे तक लगा के रखें । इसके बाद इसे धो लें। इससे आप आप गोरे होने लगेंगे। अगर आपको जल्दी गोरेपन चाहिए तो फिर आप इस पेस्ट को 2-3 हफ्ते तक उपयोग कर सकते हैं। उसके बाद आप निश्चित रूप से गोरे हो सकते हैं।

लाभ – चावल के पाउडर में aminobenzoic एसिड होता है, जो आपकी त्वचा के लिए लाभदायक होता है। और चावल का पाउडर आपकी स्किन को मॉइश्चराइज करता है। आपकी त्वचा को गोरे करने का यह घरेलू उपाय है । गोरे होने के लिए इसका उपयोग जरूर करें । इसके उपयोग से आप कुछ ही दिनों में गोरे हो जाएंगे।

गोरा बनने के लिए एलो वेरा का उपयोग करें ( Use aloe vera to become blonde) –

एलो वेरा से गोरे होने का तरीका, गोरा होने का उपाय

एलो वेरा आपको गोरा बनाने के लिए एक घरेलू और प्राकृतिक तरीके है। इसका इस्तेमाल करके आप अपने फेस और पूरे शरीर को गोरा बना सकते हैं। एलो वेरा पर आप विश्वास कर सकते हैं। एलो वेरा का उपयोग करने से आपको कोई रिएक्शन भी नहीं होता है। एलो वेरा प्राकृतिक औषधि है। एलो वेरा को आप अपने घर पर भी लगा सकते हैं। एलो वेरा का बहुत कम जगह पर भी लगाया जा सकता है। अगर आप चाहे तो एलो वेरा को गमले या पॉट में भी लगा सकते हैं।

विधि – अगर आप एलो वेरा को गमले में लगाते हैं, तो फिर आप एलो वेरा को तोड लीजिए। एलो वेरा को तोड़ने के बाद उसको थोड़ा सा दबाने से उसमे चिपचिपा पदार्थ निकलता है। उसको निकाल कर आप चेहरे पर लगाए, और पूरे चेहरे को लगभग 30 मिनट तक मसाज करें। मसाज करने के बाद उसे सूखने के लिए छोड़ दे। सुख जाने के बाद इसे पानी की सहायता से धो लें ।

लाभ – एलो वेरा आपको गोरा बनाने की एक घरेलू तरीका है। एलो वेरा में anthraquinone कंपाउंड होता है, जो आपके ऊपरी ख़राब सतह को निकाल कर आपकी गोरी त्वचा को बाहर निकालता है। और आपको गोरा बनाती है।

खीरा और नींबू के माध्यम से गोरा होने का घरेलू नुस्खा (Homemade recipe for being beautiful and blonde with cucumber and lemon) –

विधि – खीरे का रस को निकाल कर उसमे नींबू के कुछ बूंदे मिलना है। और इसमें रूई की सहायता से अपने चेहरे पर लगाना है, और अगर आप चाहे ती शरीर के अन्य हिस्सों पर भी लगा सकते हो। इसे करीब 45 मिनट तक लगा के रखने के बाद इसे धो लें।

लाभ – आपको पता है कि खीरा खाना कितना लाभ दायक है, यह आपके शरीर में पानी की पूर्ति कर देता है। खीरा में एंटीऑक्सीडेंट होता है, जो आपके जीवन के लिए बहुत जरूरी होता है। खीरा और नींबू का पेस्ट लगाने से आप गोरे और सुंदर हो जाएंगे।

खीरा के उपयोग से आपके कालेपन का खात्मा हो जाएगा । और आप गोरे दिखने लगेंगे। इसके उपयोग करने के बाद आप पाएंगे कि आपकी स्किन गोरी हो गई। और आपकी स्किन कोमल भी हो गई है।

सावधानियां – खीरे और नींबू के पेस्ट का उपयोग करने से आप गोरे हो जाएंगे, और सुंदर दिखने लगेंगे। आपको पता ही है कि खीरा आपको सर्दी दे सकता है, इसलिए आप ठंड के महीने में ना करें। और नींबू का उपयोग भी जरूरत के हिसाब से ही करें, अधिक ना करे।

परिणाम (Conclusion)

इस पोस्ट में हमने पढ़ा कि, 5 ऐसे घरेलू तरीके जिनका उपयोग करके आप सुंदर और गोरे बन सकते हैं। उपयोग बताए गए सारे तरीकों का उपयोग करने से आप गोरे हो सकते हैं। 

लेकिन दोस्तों मै आपको बता देना चाहूंगा कि, दुनिया में  सिर्फ गोरे लोगों को ही पसंद किया जाता है ऐसा नहीं है। इस दुनिया अच्छे लोगों की ज्यादा कदर है। इसलिए प्रयास कीजिए की आप एक अच्छे व्यक्ति बन जाए।

सिर्फ गोरा और सुंदर बनना काफी नहीं है, बल्कि आपको एक सफलतम व्यक्ति भी बनना पड़ेगा। तभी लोग आपको पसंद करेंगे। और आपको सभी लोगों के बीच एक उचित स्थान देंगे।

Best 4g Mobile Phone Under 5000 In India

अगर आप एक सफलतम इंसान बन जाते हैं, तो फिर फर्क नहीं पड़ता कि आप गोरे हैं, या फिर काले है, आपको लॉग पसंद करेंगे। नोट:- ऊपर बताए गोरे होने के तरीकों का इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर से परामर्श जरूर लीजिए, धन्यवाद।

Best 3Gb Ram Mobile Phone Under 10000 In India 2020 । 3Gb Ram Mobile Under Your Budget

In this post, we will give information about the best 3GB RAM mobile phone under 10000 in India. What are the phones in India that have 3 GB of RAM within 10000. With 3 GB RAM, you will also know how the other features of that phone are? There are 7 phones in this “Best 3GB RAM Mobile Phone Under 10000 in India” list, these are the names of those phones –

  1. Realme Narzo 10A (3Gb, 32Gb) Blue, Black
  2. Panasonic Eluga Ray 610 (3Gb, 32Gb) Black
  3. Panasonic Eluga I8 (Charcol Black)
  4. Redmi 8A (3gb, 32Gb) 5000mAh
  5. Realme 3 (Diamond Red, 3gb, 32gb)
  6. Realme C3 (Frozen Blue, Black 3gb, 32gb)
  7. InFocus Turbo 5S (3gb, 32gb) 4000mAh

Before buying any smartphone, you should know all its features well, so that you do not have to regret later. I would like to advise you to consider 3 GB RAM along with other features such as mobile processor, camera, ROM, battery, SIM and memory slot, fingerprint sensor, face unlock, display, glass guard, etc. Only then take a mobile. So let’s start this post.

Realme Narzo 10A (3Gb, 32Gb)

Realme Narzo 10A Best 3Gb Ram Mobile Phone Under 10000 In India 2020


This mobile phone is great in your budget. The look of this mobile is the best. This mobile is available in blue and white color. Most people choose white color only.

Realme Narzo 10A OS/Processor

It works on the mobile Android operating system. Due to being an Android smartphone, you can use many features, enjoy many apps.

As you all know that before buying a mobile, the processor is first seen. This mobile phone has a strong MediaTek processor. This phone has a “Mediatek Helio G70 AI” processor. The Mediatek Helio G70 AI works better than many Snapdragon processors. And during multitasking you don’t have problems.

Due to the good processor in realme Narzo 10A mobile phone, its speed is also good. Realme Narzo 10A has a 2.0GHz processor, which helps you to process your data quickly. These features will help you a lot while playing the game. Your phone becomes smooth.

Ram And Rom

realme Narzo 10A has 3 GB RAM. This feature of this mobile is very good that it has 3 GB of RAM. Due to the 3 GB RAM, you can also install a large size game. In this phone, you can enjoy games like pubg and free fire.

This phone has 3GB RAM and 2.0GHz processor perfect combination, which makes your gaming easier.

Apart from having good RAM, this mobile has a 32 GB ROM. Due to the 32 GB ROM, you will not have to install a separate memory card. However, if you need to expand the memory card, then you can expand this phone up to 256 GB.

Battery Backup

We read about the processor RAM and ROM, speed of this phone. Now let’s talk about that hardware part that is very important for every mobile. Yes we are talking about battery backup. Realme Narzo 10A offers a great battery backup of 5000MAh. I have used this phone myself, this mobile phone is the best in terms of battery. If you go to school, college or office, once charging this phone, there is no need to charge for at least 3 days.

Camera And Other Features

The camera quality of this phone is also good. This phone has a 12 MP + 2 MP + 2 MP rear camera and a 5 MP font camera. Due to having various cameras, your photography experience is going to be the best.
Display size 6.5 inches. Whether it be watching movies, playing games, or reading, the large Mini-drop Fullscreen offers a large field of vision, ensuring that you get an immersive visual experience.

Apart from this, talking about the security system of this mobile phone, it also has a fingerprint sensor. The response time of its fingerprint sensor is 0.28 seconds. Meaning, this mobile identifies your fingerprint very quickly. Apart from this, the face unlock system of this phone is also present.

This phone also has a dedicated slot for dual SIM cards and memory cards.

This mobile phone performs well in your budget. Click Here To Know More

Panasonic Eluga Ray 610 (3Gb, 32Gb)

Panasonic Eluga Ray 610 Best 3Gb Ram Mobile Phone Under 10000 In India 2020

panasonic Eluga Ray Mobile is also included in the list of Best 3GB RAM Mobile Under 10000. This mobile may be your favorite mobile in the range of 10000. It has some features that you will like very much. Above we have read about Realme Narzo 10A Mobile. It is good in some cases from Narzo 10A and also bad in some cases.

In this post we will discuss about the Panasonic Eluga Ray 610 and also compare Panasonic Eluga Ray with Narzo 10A.

The product is of good quality. The operating system of Android works on Panasonic Eluga Ray’s phone. This mobile phone has a dedicated slot for using dual SIM cards and memory cards. Let us know that in both slots you can use 4g sim.

Processor/OS/Ram and Rom

The panasonic Eluga Ray 610 works with the MediaTek Helio P22 octa core processor. In this, you get to see powerful processor of octa core processor. The processor of this phone is good. If you talk about speed, then the clock time of both mobiles is same. Both mobiles perform equally in terms of speed. The clock speed of both mobiles is 2.0GHz. But the Panasonic Eluga Ray 610 also gets a different function, the Panasonic Eluga Ray 610 has a secondary clock speed system. The Panasonic Eluga Ray 610 has a secondary clock speed of 1.5GHz.

As you know that in this post we are discussing about the best 3GB RAM mobile under 10000 in India. So of course this mobile also has 3 GB RAM. There is only 32 GB ROM with 3 GB RAM. During the comparison, if we know about the expandable memory card of Panasonic Eluga Ray 610, then we can expand this mobile up to 512 GB.

Due to the good processor and RAM of both mobiles, you can easily play games like PUBG and Free Fire in both mobiles.

Battery/Camera/ And Other Features

When it comes to battery, the Narzo 10A has a battery life of 5000Mah while the Panasonic Eluga Ray 610 has a battery life of 4010 mAh. In this case this mobile loses. Narzo’s battery is a better battery.

After that, talk about its camera features Panasonic Eluga Ray 610 has 13MP + 2MP + 2MP rear camera. And there is also a 13 MP front camera.

The front camera is 5MP in the Narzo 10A while the front camera is 13MP in the Panasonic Eluga Ray 610. Panasonic Eluga Ray 610 is better in terms of camera. If you are fond of selfies, then you can choose the Panasonic Eluga Ray 610.

Realme C3 (3Gb, 32Gb)

This phone is very good in terms of rate and performance. You will get this phone for about 9000 rupees. This phone is available in Frozen Blue and Frozen Black color.

OS/Processor

Of course, this phone works on Android 10 operating system. Yes, this phone does not need to be updated for Android 10. You do not need to wait for the new version, already Android 10 features will be present in it.

The Helio G70 Processor works in this mobile phone. The Helio G70 Processor is considered a very good processor. It also has an octa core processor. The speed of this processor is also good. The primary clock speed of this mobile phone is 2.5 GHz and the secondary clock speed is 1.7GHz. This phone also provides good service during multitasking.

Ram And Rom

As you know, in this post we are discussing about “Best 3GB RAM Mobile Under 10000 in India”. This phone has 3 GB RAM and 32 GB ROM. Apart from this, if you want to expand the external memory of this mobile then you can do that too. You can expand the external memory up to 256 GB in this phone.

You can use two 4g sim and one memory card simultaneously in Realme C3 (3Gb, 32Gb). For this, a dedicated slot in mobile is also provided.

Camera And Display

This phone is also strong in terms of camera. This phone has 2 rear cameras one 12 MP and the other 2 MP. This phone has a 5MP font camera as the font camera. Due to having two rear cameras, it would be nice to give a blur effect in your photo.

realme C3 (3Gb, 32Gb) has HD + display. Also, the display size of this phone is 6.52 inches. The resolution of this phone is 720 × 1600. This phone also has a GPU. The GPU name is Mali G52. Overall, you will enjoy watching movies in this phone. Also, this mobile has Gorilla Glass available.

Battery And Other Features

Now, let’s talk about the battery life of this phone. This mobile phone has a powerful battery of 5000Mah, with the help of which you can work in your mobile for a long time. If you go to school, college or office, then you do not need to charge for at least 3 days.

Apart from this, reverse charging system is also in this phone. This is also possible if you want to charge another phone or powerbank with the help of this phone.

Apart from this, talk about all the other features of this phone, it is also the best. You get this phone for about 8999 rupees, but if you increase your budget a bit, then in 9999 you will get this phone with 4 GB RAM and 64 GB ROM . it also has similar features.

This mobile has got good ratings from Flipkart. And good comments have also been received. In terms of performance, this phone is tremendous.

Top 5 4g Mobile Phone Under 5000 In India

Teri Meri Kahani Mp3 Song Download In 64Kbps, 128Kbps, 192Kbps, 320Kbps

Teri Meri Kahani Mp3 Song Download this is Most Popular Song Of Himesh Reshammiya And Ranu Mandal. Teri Meri Kahani Mp3 Song That song wich made Ranu Mandal a popular Singer Among People. Ranu Mandal who was a road side singer, himesh Reshammiya took her in his Playback Song. Thus that time Himesh Reshammiya and Ranu Mandal were Popular.

Singer Of Teri Meri Kahani Song – Teri Meri Kahani Mp3 Song Sung by Himesh Reshammiya And Ranu Mandal. We all must have seen Ranu Mandal learning the song by Himesh Reshammiya. Many videos of Ranu Mandal and Himesh Reshammiya went viral, in which Himesh Reshammiya was recording the song of Ranu Mandal. This song has been on people’s tongue for many days and even today it is my favorite song. I love this song.

Teri Meri Kahani Mp3 Song Music – Teri Meri Kahani Mp3 Song, Himesh Reshammiya And Ranu Mandal  If sung by, Music must have been given by Himesh Reshammiya. Yes Music of Teri Meri Kahani Mp3 Song was given by himesh Reshammiya.

Lyrics of Teri Meri Kahani – Lyrics are very important in all songs. If the lyrics are good along with the music, then the song becomes popular. The lyrics of this song are very good. Teri Meri Kahani Song’s lyrics writer Shabbir Ahmed. Shabbir Ahmed is a very popular lyrics writer.

Teri Meri Kahaani Moosic Label – Teri Meri Kahaani Song, created by HR Music Company.

Listen Teri Meri Kahani Mp3 Song – If you want to listen to Teri Meri Kahani Song then there are many platforms. Among the many platforms, some platforms are the favorite place. In which Gaana.Com and Jiomusic App is popular.

Listen Teri Meri Kahani Mp3 Song From JioSaavan

Listen Teri Meri Kahani Mp3 Song From Gaana.com

Teri Meri Kahani Mp3 Song Download – Teri Meri Kahani Mp3 Song can be downloaded in many quality. Which includes 64 kbps, 128 kbps, 320 kbps quality. If you want, you can download this song by choosing any quality.

Teri Meri Kahani Mp3 Song Download In 64Kbps

Teri Meri Kahani Mp3 Song Download In 128Kbps

Teri Meri Kahani Mp3 Song Download In 192Kbps

Teri Meri Kahani Mp3 Song Download In 320Kbps