Categories
Technology Tips Uncategorized

Keylogger क्या होता है? Keylogger Kya Hota Hai.

Keylogger क्या होता है (Keylogger Kya Hota Hai ) इसके फायदे और नुकसान क्या है. Keylogger से कैसे बचें. Keylogger के कितने प्रकार होते हैं. Keylogger Installation Download. Keylogger से अपने बैंक खाते को कैसे बचाएं.

Advertisement

दोस्तों यह जमाना विज्ञान का जमाना है. हमारे चारों तरफ विज्ञान के प्रभाव देखे जा सकते हैं. विज्ञान ने छोटी बड़ी बहुत सारी मशीनें बनाई है. बहुत सारे तकनीकों का आविष्कार किया है. बहुत सारी डिवाइस का आविष्कार किया है. जो हमारी लाइफ को सुविधाओं से भर दिया है. 

विज्ञान ने ऐसे टेक्नोलॉजी का आविष्कार कर दिया है, जिसके बारे में कुछ शताब्दियों पहले हम सोच भी नहीं सकते थे. विज्ञान ने Computer मोबाइल टेबलेट जैसी बहुत सारी टेक्निकल डिवाइस आविष्कार किया है. 

मोबाइल टेबलेट Computer हमारी जिंदगी को बहुत ही आसान बना दिया है. Computer मोबाइल टैबलेट में मनोरंजन के लिए बहुत सारी एप्लीकेशन होती हैं. जिनकी सहायता से हम अपने काम को बहुत ही आसानी से कर पाते हैं. इसका उपयोग हम मनोरंजन के लिए भी करते हैं, और अपने काम को सरल बनाने के लिए भी करते हैं.

Best 3g Ram 4g Mobile Under 10000 In India 2020

परन्तु हर सिक्के के 2 पहलू होते हैं. पहला अच्छा और दूसरा बुरा पहलू. विज्ञान में ऐसी तकनीकों का आविष्कार कर दिया है जो हमारे जीवन को सरल तो बनाता है. परंतु सरल बनाने के साथ ही यह हमें असुरक्षित कर देता है. जितना ज्यादा हम तकनीकों का इस्तेमाल करते हैं उतना ज्यादा और सुरक्षित हो जाते हैं.

Hackers द्वारा हमारे डिवाइस पर हमला कर दिया जाता है. और हमारा तथा हम से संबंधित सूचनाएं को एकत्र कर लिया जाता है.उन सूचनाओं उपयोग हैकर्स अपने फायदे के लिए करते हैं. हम से संबंधित सूचनाओं को प्राप्त कर लेने के पश्चात हैकर्स हमें नुकसान पहुंचा सकते हैं. यह नुकसान हमें Financial, शारीरिक तथा मानसिक हो सकता है.

इसीलिए हमें चाहिए कि हम अपने तकनीकी Device का उपयोग सोच समझ कर करें. ताकि हम अपने आपको हैकर की पहुंच से दूर रखें.

Advertisement

Best 4g Mobile Under 5000 in India

आजकल इतने सारे तकनीक और डिवाइस, एप्लीकेशन का आविष्कार हो चुका है. जिसकी सहायता से हैकर्स को हमारे डिवाइस तक पहुंचने में कोई कठिनाई नहीं होती है. वह आसानी से हमारे डिवाइस तक पहुंच जाते हैं. और हमारे डिवाइस को एक्सेस कर लेते हैं. और हमें नुकसान पहुंचा देते हैं.

इस पोस्ट में हम जानेंगे कि Keylogger क्या है? Keylogger हमें किस तरह से नुकसान पहुंचा सकता है? Keylogger से कैसे बचें? Keylogger के फायदे क्या हैं? और उसके नुकसान क्या है?

Keylogger क्या है? (Keylogger Kya Hota Hai)

Keylogger एक Computer Designed Program सॉफ्टवेयर है. Keylogger की सहायता से हैकर्स हमारे डिवाइस को मॉनिटर कर सकते हैं. Keylogger की सहायता से Hackers जान सकते हैं कि हम अपने डिवाइस में क्या टाइप कर रहे है?. किस वेबसाइट पर जा रहे हैं. अपने डिवाइस पर कौन सा एप्लीकेशन का उपयोग कर रहे हैं. तथा हमारे मैसेज तथा ईमेल को Illegal रूप से Read किया जा सकता है.

मतलब कि हमारे डिवाइस में Keylogger Install होने के बाद हम अपने डिवाइस में कौन सी गतिविधियां कर रही है. हैकर्स को उसका पता चल जाता है. और hackers उसका गलत इस्तेमाल करते हैं. 

उसके गलत इस्तेमाल से हमें अपने बैंक अकाउंट के पैसों से हाथ धोना पड़ सकता है. तथा कई प्रकार की शारीरिक तथा मानसिक नुकसान भी उठाना पड़ सकता है.

Keyloggers के प्रकार (Keylogger Ke Prakar)

Keylogger मुख्यतः दो प्रकार के होते हैं. एक हार्डवेयर Keylogger और दूसरा सॉफ्टवेयर Keylogger. हार्डवेयर Keylogger सॉफ्टवेयर Keylogger क्या होता है नीचे दिया गया है.

Advertisement

हार्डवेयर Keylogger क्या होता है ?

हार्डवेयर Keylogger साधारण सा एक पेनड्राइव या डोंगल के जैसे होते हैं. उसको कीबोर्ड के में Attached कर दिया जाता है. आजकल Technology ज्यादा सफल हो चुका है. इसीलिए हार्डवेयर Keylogger को कीबोर्ड के अंदर ही Install किया जा सकता है. और कीबोर्ड के अंदर Keylogger अटैच होने के बाद हमें यह पता नहीं चलता कि Keylogger उसको कहां इंस्टाल किया गया है.

सॉफ्टवेयर Keylogger क्या होता है?

जैसे कि मैंने पहले ही बताया था कि सॉफ्टवेयर Keylogger एक Computer डिजाइन प्रोग्राम है. इसीलिए इसे वेब पेज या फिर एप्लीकेशन के रूप में डिवाइस पर Install किया जा सकता है. जब हैकर्स आपके डिवाइस में से Install करता है तब आपको पता नहीं चलता है. ऐसे ही सॉफ्टवेयर Keylogger कहते हैं. आजकल कीबोर्ड तथा माउस ब्लूटूथ की सहायता से चलते हैं जोकि इंक्रिप्टेड सिग्नल का उपयोग करते हैं. हैकर्स के द्वारा इनको आसानी से हैक कर लिया जा सकता है.

Keylogger आपके डिसाइड पर कैसे Install किया जा सकता है. 

जैसे कि मैंने बताया कि Keylogger हार्डवेयर के रूप में भी आता है. इसलिए यह आपके डिवाइस में डोंगल और पेन ड्राइव कि जैसे दिखने वाले हार्डवेयर के द्वारा इनस्टॉल किया जा सकता है. जब आप किसी Unknown वेबसाइट पर जाते हैं तब वहां वेबसाइट या हैकर्स के द्वारा आपके डिवाइस पर Keylogger Install कर दिया जाए सकता है. 

जब किसी Unknown इंसान से या कंपनी से कोई ईमेल आता है. तब उस ईमेल में Attached File के रूप में Keylogger आपके डिवाइस पर हो जाता है.

जैसा कि मैंने ऊपर में बताया कि Keylogger एक सॉफ्टवेयर प्रोग्राम है. इसलिए यह एक एप्लीकेशन के रूप में भी हो सकता है. जिसे आपके डिवाइस पर आसानी से Install कर  दिया जा सकता है.

Keylogger के लाभ (Benefits Of Keylogger)

जैसा कि आपने ऊपर में Keylogger के बारे में जान लिया है. और यह भी जान लिया है Keylogger यदि आपके डिवाइस पर स्टाइल कर दिया जाता है. तो यह आपको कितना नुकसान पहुंचा सकता है. यह आपके प्राइवेसी को नष्ट कर सकता है. इसके बाद भी Keylogger की कुछ लाभ हैं. जो इस प्रकार से हैं;-

  • Keylogger का उपयोग ऑफिस में, ऑफिस वर्कर के काम को मॉनिटर करने के लिए किया जाता है और यह देखा जाता है कि वह ऑफिस समय के दौरान क्या-क्या करते हैं।
  • Keylogger का उपयोग Cyber cafe में किया जाता है  ताकि यह पता चल सके कि जिस Computer पर यूजर कार्य कर रहे हैं वह कोई गलत कार्य तो नहीं कर रहे हैं.
  • Keylogger का उपयोग किसी डिवाइस या फिर डॉक्यूमेंट में Word काउंट करने के लिए भी किया जाता है.

Keylogger के नुकसान या हानियां (Disadvantage Of Keylogger)

  • Keylogger की सहायता से आपकी डिवाइस को पूरी तरह से मॉनिटर कर सकते हैं और अपनी गतिविधियों को जान सकते हैं। जिससे आपकी प्राइवेसी नष्ट होती है
  • Keylogger से मुख्यतः यह देखता है कि आप क्या टाइप कर रहे हैं इसलिए जब भी आप किसी ऑनलाइन बैंकिंग अकाउंट में लॉगइन करने के लिए अपना आईडी और पासवर्ड डालते हैं तो यह Keylogger में रिकॉर्ड हो जाता है जो आपके लिए परेशानी खड़ी कर सकती है। उसके बाद यह सॉफ्टवेयर अपने डाटा को कैसे थर्ड पार्टी इंसान को सेंड कर देता है जो आपके लिए सही नहीं है।
  • Keylogger की सहायता से आपके डिवाइस में मौजूद मैसेज को पढ़ा जा सकता है Keylogger के सहायता से आपकी Mail को रीड किया जा सकता है।
  • जब आपके डिवाइस में Keylogger Install होता है तब आप किस वेबसाइट में कौन से काम कर रहे हैं यह भी पता लगाए जा सकते हैं।
  • Keylogger से प्राप्त जानकारी या इंफॉर्मेशन के जरिए है Hackers आपको फाइनेंसियल नुकसान पहुंचा सकते हैं जिसके कारण आपके पैसे अकाउंट से गायब हो सकते हैं

Keylogger कैसे काम करता है 

जब Keylogger आपके डिवाइस पर Install कर दिया जाता है तब यह आपके डिवाइस में Background में डाल Run करती रहती है और जब भी आप अपने डिवाइस पर कोई काम करते हैं तो यह आपकी सारी गतिविधियों को मॉनिटर कर लेता है और अपनी Database में रिकॉर्ड कर लेता है.

Advertisement

इसके बाद यह सॉफ्टवेयर स्वतः ही किसी Third Party Person व्यक्ति को Send कर देता है इस तरह से यह आपकी Privacy को नष्ट करता है तथा आपकी तथा आप से संबंधित सारी जानकारियां किसी third-person व्यक्ति के पास चला जाता है।

Keylogger से कैसे बचें :-

  • दोस्तों को ऊपर मैंने बताया कि Keylogger कितना खतरनाक है यदि आपके डिवाइस पर Keylogger Install कर दिया जाता है तो यह आप को बहुत नुकसान पहुंचा सकती है इसीलिए Keylogger से बचने के उपाय करने चाहिए Keylogger से बचने के निम्नलिखित उपाय हैं
  • हो सकता है कि Keylogger आपके कोई भी करीबी लोगों द्वारा आपके डिवाइस पर Install कर दिया गया हो इसलिए हो सके तो विश्वसनीय लोगों को अपने पास रखें।
  • जैसे कि मैंने बताया कि Keylogger हार्डवेयर के रूप में भी Install किया जा सकता है इसीलिए अपने Computer मोबाइल टैबलेट पर काम करने से पहले चेक कर लें कि कहीं उस पर कोई एक्स्ट्रा डिवाइस तो नहीं लगा है यदि आपके कीबोर्ड पर कोई एक्स्ट्रा डिवाइस लगा है तो हो सकता है कि वह Keylogger Hardware प्रोग्राम हो।
  • आजकल माउस और कीबोर्ड भी ब्लूटूथ के जरिए चलता है ऐसे Device को हैकर के द्वारा हैक करना आसान हो जाता है इसीलिए जब भी आप कोई वायरलेस माउस या फिर कीबोर्ड खरीदें तो किसी ट्रस्टेड ब्रांड से खरीदें।
  • अपने डिवाइस पर काम करते समय कम से कम हफ्ता भर में एक बार यह भी चेक कर लेना चाहिए कि कहीं आपके डिवाइस पर कोई Unwanted एप्लीकेशन तो Install नहीं है यदि कोई Unwanted एप्लीकेशन आपके डिवाइस पर Install है तब उसे तुरंत डिलीट कर देना।
  • जब भी आप अपने नेट बैंकिंग Account Login करते हैं तब आपको अपने डिवाइस का कीबोर्ड इस्तेमाल नहीं करना चाहिए बल्कि उस लॉगिन पेज में दिया गया वर्चुअल कीबोर्ड का इस्तेमाल करना चाहिए।
  • दोस्तों कोई सा भी एप्लीकेशन डाउनलोड करने के लिए किसी Trustful वेबसाइट या फिर एप्लीकेशन का उपयोग करें किसी Unknown जगह से कोई एप्लीकेशन डाउनलोड ना करें।
  • अपने डिवाइस में यह सेटिंग करें कि किसी भी Unknown जगह से आपका फोन कोई चीज डाउनलोड ना करें तथा डाउनलोड करते समय Permission जरूर मांगे।
  • Keylogger से बचने के लिए ध्यान रखें कि आप कोई भी Unknown वेबसाइट पर ना जाएं Unknown वेबसाइट पर विजिट करने से हो सकता है कि वह वेबसाइट आपके डिवाइस पर Keylogger ने Install कर दे।
  • Keylogger आपके हार्डवेयर डिवाइस के अंदर भी सेट किया जा सकता है इसीलिए कोई इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस किसी Trustful Brand से ही खरीदें।
  • दोस्तों Keylogger या किसी भी वायरस से बचने के लिए यह जरूर ध्यान में रखें कि अगर किसी Unknown E-mail Id से कोई ईमेल आए और उस ईमेल में कोई Attachment File हो तब उस फाइल को Open नहीं करना चाहिए हो सकता है कि उस Attachment File में कोई वायरस हो या फिर Keylogger जैसे कोई हानिकारक सॉफ्टवेयर हो और यह आपके डिवाइस को नुकसान पहुंचा सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *