Categories
Uncategorized

दंतेवाड़ा पुलिस ने नक्सलियों का साथ देने वालो को ना सिर्फ छोड़ा बल्कि उन्हें इनाम भी दिया।

दंतेवाड़ा से एक आश्चर्य करने वाली खबर आ रही है। रविवार की शाम को दांतेवाड़ा पुलिस ने नक्सलियों कि मदद करने के शक पुलिस ने जियकोड़ा इलाके से 7 संदिग्धों को पकड़ा ।

पुलिस को शक था कि इन सातों ने मिलकर नक्सलियों की मदद की है । लेकिन पुलिस ने सामान्य बातचीत पूछताछ करने के बाद सातों आरोपियों को छोड़ दिया । पुलिस ने उन सातों को इस शर्त पर छोड़े की उनकी जिम्मेदारी सरपंच लेंगे। अगर अगली बार से वे किसी ऐसे गतिविधि में शामिल होंगे तो सबसे पहले उनके सरपंच के उप्पर कार्यवाही होगी।

जिन सातों को पुलिस ने पकड़ा था पता चला है कि उनमें में एक जोड़े कोवासी हड़मे और सन्नू माड़वी की शादी होने वाली है। इसकी जानकारी होने पर पुलिस ने उनके शादी के लिए सहयोग राशि इनाम के रूप में देने को राजी हुए हैं।

खबर आ रही है कि सातों आरोपियों को गिरफ्तार करने के बाद उस इलाके के समाजसेवी हिमांशु कुमार ने आरोपियों के जिरफ्तरी की सूचना फेसबुक पर अपलोड कर दिया क्योंकि उनको शंका था कि गिरफ्तारी के बाद कहीं पुलिस उनकी हत्या ना कर दे।

अब इस घटना को पुलिस की दरिदिली कहा जाए या फिर Ignorance ये समझ में नहीं आ रहा है। पुलिस एक तरफ जहां नक्सलियों से लोगो की सुरक्षा के लिए काम कर रही है और दूसरी तरफ नक्सली संदिग्धों को सामान्य पूछताछ पर छोड़ रही है। और साथ में इनाम भी दिया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *